कोलकाता में विमान के दरवाजों के बीच फँस गया तकनीशियन, हुई दर्दनाक मौत

कोलकाता में विमान के दरवाजों के बीच फँस गया तकनीशियन, हुई दर्दनाक मौत

neeraj@prabhasakshi.com | Jul 11 2019 12:34PM

कोलकाता। विमानन कंपनी स्पाइस जेट के तकनीशियन की यहां हवाई अड्डे पर मंगलवार देर रात एक घातक दुर्घटना में मौत हो गयी। तकनीशियन विमान के लैंडिंग गियर के दरवाजे पर मरम्मत का काम कर रहा था, तभी उसका सिर हाइड्रॉलिक दरवाजों के फ्लैप के बीच फंस गया। हवाई अड्डा पुलिस थाने में ‘अस्वाभाविक मौत’ की शिकायत दर्ज कराई गई, जबकि उड्डयन विनियामक ने घटना की जांच शुरू कर दी है। ‘स्पाइस जेट’ ने एक बयान में बताया कि हाइड्रॉलिक दरवाजे ‘‘दुर्घटनावश’’ बंद हो गए जिसके कारण रोहित पांडे वहां फंस गया। उन्होंने बताया कि पांडे को बचाने के लिए बॉम्बार्डियर क्यू400 विमान के लैंडिंग गियर के दरवाजे तोड़ने पड़े लेकिन उसकी मौत हो गई। विमान के अधिकारी के अनुसार यह हादसा देर रात पौने दो बजे हुआ।

स्पाइस जेट ने कहा, ‘‘पांडे क्यू400 विमान के दाएं हाथ के मुख्य लैंडिंग गियर व्हील क्षेत्र में 10 जुलाई को रखरखाव संबंधी काम कर रहा था। यह विमान कोलकाता हवाई अड्डे के बे नंबर 32 में खड़ा था।’’ उसने कहा, ‘‘मुख्य लैंडिंग गियर हाइड्रॉलिक दरवाजा ‘दुर्घटनावश’ बंद हो गया और वह हाइड्रॉलिक दरवाजों के फ्लैप के बीच फंस गया।’’ उसने कहा, ‘‘पांडे को बचाने के लिए हाइड्रॉलिक दरवाजों को तोड़ना पड़ा लेकिन उसे मृत घोषित कर दिया गया।’’ नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने घटना की जांच शुरू कर दी है।’’ 
पांडे मुंबई के उपनगर कांदिवली के पोइसर का रहने वाला था और उसने पिछले साल ही स्थानीय उड्डयन ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट से एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस में इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी। वह स्पाइस जेट में नौकरी मिलने के बाद कोलकाता में अपने चाचा-चाची के साथ रह रहा था। पुलिस के एक दल ने घटना स्थल का दौरा किया है। फॉरेंसिक विशेषज्ञ घटना स्थल से साक्ष्य एकत्र करेंगे। अधिकारी ने कहा, ‘‘हमारे अधिकारी घटनास्थल पहुंच गए हैं। हम विमानन कंपनी के उन अधिकारियों से बात कर रहे हैं जो वहां मौजूद थे। हम यह समझने की कोशिश कर रहे हैं कि यह हादसा किसी तकनीकी गड़बड़ी के कारण हुआ या यह किसी की लापरवाही से हुआ।’’ इससे पहले, 2015 में मुंबई हवाई अड्डे पर एयरबस ए319 के इंजन में फंसने के बाद एयर इंडिया के एक इंजीनियर की मौत हो गई थी। 
 
परिवार की आय का मुख्य जरिया था तकनीशियन
 
स्पाइस जेट का तकनीशियन रोहित पांडे एक कुशाग्र छात्र और परिवार का मुख्य कमाने वाला सदस्य था। पांडे के पूर्व प्रशिक्षक ने यह जानकारी दी। ठाकुर इंस्टीट्यूट ऑफ एविएशन टेक्नोलॉजी के प्रशिक्षक प्रवीन विश्वकर्मा ने कहा कि इस खबर से वह सदमे में हैं। विश्वकर्मा ने रोहित को बेहद कुशाग्र छात्र बताते हुए कहा कि पिछले साल कैंपस सलेक्शन के दौरान उसका स्पाइस जेट में चयन हुआ। उन्होंने कहा कि इंस्टीट्यूट में पिछले तीन साल के दौरान मैंने उसे बेहद निपुण पाया।
 
कांदिवली के पोइसर निवासी रोहित के पिता की कुछ साल पहले मौत हो गई थी। विश्वकर्मा ने कहा कि रोहित की दो बहने हैं और उसकी मां कुछ काम करती हैं, क्योंकि परिवार की आर्थिक दशा अच्छी नहीं है। उन्होंने कहा कि वह परिवार की एकमात्र उम्मीद था, लेकिन रोहित नहीं रहा। हादसे का पता चलने के बाद इंस्टीट्यूट के छात्र और शिक्षक रोहित के घर गए। 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप