पर्यटन स्थल

दिल्ली एनसीआर के ये कृष्ण मंदिर जन्माष्टमी पर दुल्हन की तरह सजते हैं

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Sep 1 2018 3:52PM

राधा के श्याम और भक्तों के भगवान श्रीकृष्ण के जन्मदिन की तैयारियां पूरे देश में चल रही हैं। भगवान विष्णु के आठवें अवतार कृष्णजी का जन्म भारत सहित दुनियाभर में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है। भगवान श्रीकृष्ण द्वारका के राजा थे। उन्होंने द्वारका नगरी बसायी थी। इसलिए उन्हें द्वारकाधीश भी कहते हैं। इस जन्माष्टमी के अवसर हम आपको बताते हैं दिल्ली एनसीआर के उन मंदिरों के बारे में जहां आप यहां जाएंगे तो आप का वहां से वापस आने का दिल बिलकुल भी नहीं करेगा।

इस्कॅान मंदिर नोएडा

नोएडा का इस्कॅान मंदिर काफी खूबसूरत कृष्ण मंदिर है। यह मंदिर अग्रसेन मार्ग, नोएडा सैक्टर-33, उत्तर प्रदेश में स्थित है। इस मंदिर के रख रखाव का कार्य इस्कॉन संस्था द्वारा किया जाता है। मंदिर में भगवान श्रीकृष्ण और राधा रानी की बहुत सुन्दर मूर्ति है। इस्कॅान मंदिर नोएडा एक छोटे से भूखंड पर बना हुआ है, इसलिए एक मंदिर के सभी विशिष्ट तत्वों को समायोजित करने के लिए मंदिर को सीधा खड़ा बनाया गया है। यह मंदिर सात मंजिला है।

इस्कॉन गाजियाबाद

इस्कॉन के राजनगर स्थित श्री श्री राधा मदन मोहन मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव की तैयारियां शुरू हो गई हैं। यहां पर रोजाना सुबह तुलसी आरती व शाम को गौर आरती होगी। शाम को कृष्ण कथा और संकीर्तन का भी आयोजन किया जाता है।

बांके बिहारी लाला जी पंजाबी बाग

भगवान श्री वृंदावन बांके बिहारी लाला जी की प्रेरणा से दिल्ली के पंजाबी बाग में बना ये खूबसूरत मंदिर भगवान श्रीकृष्ण को समर्पित है। हर जन्माष्टमी पर यहां विशेष कार्यक्रम होते हैं साथ ही इस मंदिर को बहुत ही आकर्षक तरीके से सजाया जाता है। रात में चारों ओर रंग-बिरंगी रोशनी ही रोशनी होती है। ये मंदिर श्री वृंदावन बांके बिहारी लाला जी की तर्ज पर बनाया गया है।

श्री राधा कृष्ण मंदिर द्वारका दिल्ली

श्री राधा कृष्ण मंदिर 24 जनवरी, 2016 को दिल्ली के द्वारका में श्री गणेश और श्री हनुमान लाल की समिति द्वारा स्थापित किया गया। यह काफी बड़ा मंदिर है।

श्री कृष्ण परनामी मंदिर जीटीबी नगर

यह मंदिर श्री राज जी महाराज और श्री श्यामा महारानी के वंश के लोगों ने बनवाया। इस मंदिर को श्री कृष्ण सेनामी मंदिर भी कहा जाता है। यह गेट नंबर 2, जीटीबी नगर मेट्रो स्टेशन से 100 मीटर दूर है।

-सुषमा तिवारी

शेयर करें:

लोकप्रिय खबरें

ओवैसी ने अमित शाह से पूछा तीखा सवाल- क्या भाजपा मुझे भी गाय देगीबात से पलटी कांग्रेस, कहा- आरएसएस पर प्रतिबंध लगाने की बात नहीं कहीममता को बड़ा झटका, पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी कांग्रेसअनंत कुमार के निधन से देश ने अपना अमूल्य रत्न खो दिया: रघुवर दास