रोहित के अर्धशतक से भारत ने वेस्टइंडीज को हराया, श्रृंखला जीती

रोहित के अर्धशतक से भारत ने वेस्टइंडीज को हराया, श्रृंखला जीती

प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Aug 5 2019 8:27AM

लॉडेरहिल। रोहित शर्मा के अर्धशतक के बाद कृणाल पंड्या की उम्दा गेंदबाजी से भारत ने वर्षा से प्रभावित दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में रविवार को यहां वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुईस पद्धति के तहत 22 से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की विजयी बढ़त बना ली। भारत के 168 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज ने जब 15.3 ओवर में चार विकेट पर 98 रन बनाए थे जब बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा जो दोबारा शुरू नहीं हो पाया। डकवर्थ लुईस पद्धति के तहत इस समय बराबरी का स्कोर 120 रन था। कृणाल ने 3.3 ओवर में 23 रन देकर दो विकेट चटकाए। वाशिंगटन सुंदर (12 रन पर एक विकेट) और भुवनेश्वर कुमार (सात रन पर एक विकेट) ने भी उनका अच्छा साथ निभाया। वेस्टइंडीज की ओर से रोवमैन पावेल ने 54 रन की पारी खेलने के अलावा निकोलस पूरण (19) के साथ तीसरे विकेट के लिए 76 रन की साझेदारी भी की लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके।

 
इससे पहले भारत ने रोहित की 51 गेंद में छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से 67 रन की पारी की बदौलत पांच विकेट पर 167 रन बनाए। रोहित ने शिखर धवन (23) के साथ पहले विकेट के लिए 67 और कप्तान विराट कोहली (28) के साथ दूसरे विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी की। कृणाल पंड्या ने भी अंत में 13 गेंद में नाबाद 20 रन बनाए। रोहित अपनी इस पारी के दौरान टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के जड़ने वाले बल्लेबाज बने। उनके नाम पर अब 107 छक्के दर्ज हैं। उन्होंने वेस्टइंडीज के क्रिस गेल (105) को पीछे छोड़ा। वेस्टइंडीज की ओर से ओशेन थामस (27 रन पर दो विकेट) और शेल्डन कोटरेल (25 रन पर दो विकेट) ने दो-दो विकेट चटकाए।  भारत ने शनिवार को इसी मैदान पर पहला टी20 चार विकेट से जीता था। श्रृंखला का तीसरा और अंतिम टी20 प्रोविडेंस में छह अगस्त को खेला जाएगा। लक्ष्य का पीछा करने उतरे वेस्टइंडीज की शुरुआत बेहद खराब रही और उसने आठ रन तक ही दोनों सलामी बल्लेबाजों एविन लुईस (00) और सुनील नारायण (04) के विकेट गंवा दिए। भुवनेश्वर ने लुईस को अपनी ही गेंद पर लपका जबकि नारायण को वाशिंगटन ने बोल्ड किया। पावेल ने पांचवें ओवर में खलील अहमद पर पारी का पहला चौका जड़ा और फिर नवदीप सैनी पर भी चौका मारा।
वेस्टइंडीज ने पावर प्ले में दो विकेट पर 25 रन बनाए। पावेल ने खलील पर पारी का पहला छक्का जड़ा और फिर सैनी पर लगातार दो चौके मारे। पावेल ने वाशिंगटन पर छक्के के साथ नौवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। पावेल ने कृणाल पर पारी का अपना तीसरा छक्का जड़ा और फिर सैनी की गेंद पर एक रन के साथ 30 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। मनीष पांडे ने इसके बाद लांग आफ बाउंड्री पर पूरण का शानदार कैच लपककर इस साझेदारी का अंत किया। उन्होंने 34 गेंद की पारी में एक चौका मारा। कृणाल ने इसी ओवर में पावेल को भी पगबाधा करके वेस्टइंडीज को दोहरा झटका दिया। पावेल ने 34 गेंद की अपनी पारी में छह चौके और तीन छक्के मारे। वेस्टइंडीज को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 73 रन की दरकार थी। पारी के 16वें ओवर में जब तीन गेंद हुई थी तभी बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा जो दोबारा शुरू नहीं हो पाया। इस समय कीरोन पोलार्ड आठ जबकि शिमरोन हेटमायर छह रन बनाकर खेल रहे थे। कोहली ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद रोहित और शिखर ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई। रोहित ने थामस की मैच की पहली गेंद पर चौके के साथ खाता खोला और फिर इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में भी चौका मारा। धवन ने भी थामस पर चौका जड़ा। भारत के सलामी बल्लेबाजों को वेस्टइंडीज के गेंदबाजों का सामना करने में अधिक दिक्कत नहीं हुई। वेस्टइंडीज के गेंदबाजों ने दिशाहीन गेंदबाजी भी की जिसका फायदा भारतीय बल्लेबाजों ने उठाया।
रोहित ने छठे ओवर में कीमो पाल पर पारी के पहले छक्के के साथ सर्वाधिक छक्कों के गेल के रिकार्ड की बराबरी। भारत ने पावर प्ले में बिना विकेट खोए 52 रन बनाए। तेज गेंदबाज कीमो पाल ने धवन को बोल्ड करके वेस्टइंडीज को पहली सफलता दिलाई। धवन ने 16 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके मारे। रोहित ने नारायण पर छक्के के साथ टी20 अंतरराष्ट्रीय में सर्वाधिक छक्के के गेल के रिकार्ड को तोड़ा और फिर इस आफ स्पिनर पर एक रन के साथ 40 गेंद में 17वां अर्धशतक पूरा किया। रोहित हालांकि इसी ओवर में भाग्यशाली रहे जब डीप मिडविकेट पर कोटरेल ने उनका मुश्किल कैच टपका दिया। कोहली ने बायें हाथ के स्पिनर खेरी पियरे पर सीधा छक्का जड़कर तेवर दिखाए जबकि रोहित ने ब्रेथवेट पर छक्के के साथ 13वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। रोहित अगले ओवर में थामस की गेंद को हवा में लहराकर शिमरोन हेटमायर को आसान कैच दे बैठे। उन्होंने 51 गेंद की अपनी पारी में छह चौके और तीन छक्के मारे।  ऋषभ पंत भी सिर्फ चार रन बनाने के बाद थामस की गेंद को थर्डमैन पर कीरोन पोलार्ड के हाथों में खेल गए जबकि कोटरेल ने कोहली को बोल्ड करके भारत को चौथा झटका दिया। कोटरेल ने इसके बाद मनीष पांडे (06) को भी विकेटकीपर निकोलस पूरण के हाथों कैच कराया। कृणाल ने अंतिम ओवर में पाल पर लगातार दो छक्कों के साथ 28 गेंद के बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। रविंद्र जडेजा (नाबाद 09) ने भी इस ओवर में छक्का मारा।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप