जोकोविच का ग्रैंडस्लैम हासिल करने का लय टूटा, फाइनल में नडाल से भिड़ेंगे थिएम

जोकोविच का ग्रैंडस्लैम हासिल करने का लय टूटा, फाइनल में नडाल से भिड़ेंगे थिएम

प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Jun 9 2019 12:48PM

पेरिस। विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर काबिज नोवाक जोकोविच का दूसरी बार सभी ग्रैंडस्लैम खिताब हासिल करने वाला दूसरा खिलाड़ी बनने का सपना यहां शनिवार को वर्षा बाधित फ्रेंच ओपन सेमीफाइनल में डोमिनिक थिएम ने चकनाचूर कर दिया। दो दिन और चार घंटे से ज्यादा देर तक चले इस सेमीफाइनल में थिएम ने जोकोविच की ग्रैंडस्लैम में 26 मैच में लगातार जीत हासिल करने की लय भी तोड़ दी। चौथे वरीय थिएम ने जोकोविच को 6-2, 3-6, 7-5, 5-7, 7-5 से मात देकर फाइनल में जगह बनायी जहां उनका सामना 11 बार के विजेता और गत चैम्पियन राफेल नडाल से होगा।

यह इस तरह पिछले साल के फाइनल का दोहराव होगा। 33 वर्षीय खिलाड़ी का यहां यह 12वां फाइनल होगा। थिएम ने पेरिस में चल रही हवा और ठंड से डटकर सामना किया और शीर्ष वरीय जोकोविच के ग्रैंडस्लैम इतिहास में राड लावेर के बराबर पहुंचने की उम्मीद तोड़ दी। जोकोविच को मौसम के अलावा चेयर अंपायर और सामान्य से अधिक नेट की ओर बढ़ने की प्रवृति से परेशनी हुई। 

 
आस्ट्रिया के इस 25 साल के खिलाड़ी ने पांचवें सेट में सर्विस करते समय सहज गलतियों से दो मैच प्वाइंट गंवाये लेकिन उन्होंने तीसरे मौके का फायदा उठाकर फारहैंड विनर से अंतिम गेम में जोकोविच की सर्विस तोड़ दी। थिएम हालांकि 17 बार के मेजर विजेता नडाल को अपने कैरियर में क्ले कोर्ट पर चार बार हरा चुके हैं जबकि स्पेन का यह धुरंधर सात बार फतह हासिल कर चुका है। वह 1995 में पेरिस में थामस मस्टर के बाद आस्ट्रिया का दूसरा ग्रैंडस्लैम पुरूष चैम्पियन बनने की कोशिश करेंगे। थिएम का मुकाबले स्थगित होने के कारण यह लगातार चौथे दिन मैच था। उन्होंने चार घंटे 13 मिनट तक चले मैच के बाद कहा कि यह शानदार मैच था। यह रोलां गैरां में मेरा पहला पांच सेट वाला मैच था इसलिये यह होना अच्छा रहा। उन्होंने कहा कि सेमीफाइनल में सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में तीसरे नंबर के साथ खेलना सचमुच शनदार है। 
नडाल से फाइनल के बारे में थिएम ने कहा कि ऐसा लगता है कि जो भी फाइनल में पहुंचता है, उसे नडाल से ही खेलना पड़ता है। वह प्रबल दावेदार होंगे लेकिन मैं फिर इसे कोर्ट पर ही छोड़ दूंगा, देखते हैं नतीजा क्या रहता है। बारिश के कारण शुक्रवार को मैच निलंबित हो गया जिसमें जोकोविच ने स्टेडियम में तेज हवा की शिकायत की थी। जब खेल रूका तो शीर्ष वरीय खिलाड़ी तीसरे सेट में 1-3 से पिछड़ रहा था जबकि दो घंटे का खेल बाकी था। लेकिन टूर्नामेंट के आयोजाकों ने इस फैसले का बचाव किया क्योंकि पेरिस में शाम को 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की भविष्यवाणी थी। जोकोविच ने कहा कि मैं डोमिनिक को बधाई देता हूं, वह अहम क्षणों में बेहतरीन खेला। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से जब आप आंधी जैसी परिस्थितियों में खेल रहे हो तो अपना सर्वश्रेष्ठ खेलना कठिन है।
शनिवार को सातवें गेम में जोकोविच ने ब्रेक बचाया लेकिन जल्द ही वह फिर पिछड़ गये जब थिएम ने चौथा सेट प्वाइंट अंक में तब्दील किया। सर्बियाई खिलाड़ी को खेल भावना के विपरीत आचार के लिये चेतावनी भी दी गयी जिन पर पहले ही समय बरबाद करने का उल्लघंन लगाया गया था। चौथे सेट में जोकोविच ने सर्वित तोड़कर 2-1 की बढ़त बनायी लेकिन आस्ट्रियाई खिलाड़ी ने इसे बराबर कर दिया। शीर्ष वरीय ने फिर सर्विस तोड़कर 3-2 कर दिया और 4-2 से आगे हो गये। लेकिन थिएम रूकने के मूड में नहीं थे, उन्होंने इसे 4-4 से बराबरी पर ला दिया।
हालांकि जोकोविच ने इसे अपने नाम कर लिया जिससे पांचवां सेट निर्णायक बना। थिएम को दर्शकों का समर्थन मिल रहा था और पांचवें सेट में उन्होंने 4-1 की बढ़त बना ली। बारिश ने फिर बाधा पहुंचायी और खेल एक घंटे के लिये रोकना पड़ा। जोकोविच ने ब्रेक के बाद इसे 3-4 कर दिया और आस्ट्रियाई खिलाड़ी ने दो मैच प्वाइंट हासिल किये जिससे दोनों 5-5 की बराबरी पर आ गये। जोकोविच की 53वीं सहज गलती पर थिएम ने 52वां विनर जमाकर फाइनल में प्रवेश किया। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप