सोशल मीडिया प्रबंधन के मामले में इसलिए मोदी हैं दुनिया में सबसे आगे

सोशल मीडिया प्रबंधन के मामले में इसलिए मोदी हैं दुनिया में सबसे आगे

पारितोष बंगवाल | Jul 15 2019 3:42PM
विश्व के लोकप्रिय राजनेताओं में से एक देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोशल मीडिया प्रबंधन के भी माहिर माने जाते हैं। सोशल मीडिया का बेहतर उपयोग और उसके माध्यम से अपनी बात को जन सामान्य तक पहुंचाने में कोई और शायद ही उनकी बराबरी कर सके। सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म यथा- फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन आदि पर मोदी के फॉलोवर्स की संख्या करोड़ों में है।
 
विश्व की नामचीन हस्तियों, राजनेताओं, सेलिब्रिटीज के बीच लोकप्रिय माइक्रो ब्लॉगिंग साइट "ट्विटर" की ही बात करें तो प्रधानमंत्री मोदी को लगभग 4.85 करोड़ लोग इस पर फॉलो करते हैं। विश्व के राजनेताओं में ट्विटर पर फॉलोवर्स की दृष्टि से प्रधानमंत्री मोदी तीसरे नंबर पर हैं। पहले नंबर पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हैं। ट्विटर पर फॉलोवर्स की यह संख्या मोदी की एक राजनेता के रूप में वैश्विक लोकप्रियता को दर्शाने के लिए काफी है।
ट्विटर पर फॉलोवर्स की भारी-भरकम फौज होने के बावजूद प्रधानमंत्री मोदी अपने निजी ट्विटर हैंडल से लगभग 2200 लोगों को फॉलो करते हैं, जिनमें विभिन्न देशों के राष्ट्रध्यक्ष, विभिन्न क्षेत्रों की जानी-मानी हस्तियां आदि शामिल हैं। इन शख्सियतों के साथ मोदी अपने ट्विटर पर कई ऐसे सामान्य लोगों को भी फॉलो करते हैं, जिनका समाज में बहुत बड़ा नाम या पद नहीं है। मगर उनकी विभिन्न कार्यों या क्षेत्रों में रचनात्मक सक्रियता रहती है। 
 
यह भी दिलचस्प है कि दुनिया में शायद ही कोई ऐसा वर्तमान राजनीतिज्ञ होगा जो इतने लोगों को ट्विटर पर फॉलो करता हो। 2012 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की प्रचार टोली ने लगभग 6,00,000 लोगों को ट्विटर पर फॉलो किया था। परन्तु विशेषज्ञों के अनुसार यह एक प्रकार का पारस्परिक संवाद था, कि आप बराक ओबामा को फॉलो करें तो वे आपको फॉलो बैक करेंगे। परन्तु नरेंद्र मोदी का ट्विटर पर फॉलो करने का अपना एक अलग अंदाज है। मोदी विभिन्न अवसरों पर एक साथ ही ट्विटर पर लोगों को फॉलो करते हैं।
 
जैसे 2016 में होली के अवसर पर उन्होंने आपसी सद्भाव और समरसता का परिचय देते हुए करीब 150 लोगों को फॉलो किया था। जिनमें उनके धुर विरोधी और विपक्ष के नेता राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल जैसे लोग शामिल थे। 2017 में अपने जन्मदिवस के अवसर पर उन्होंने 59 लोगों को रिटर्न गिफ्ट के तौर पर ट्विटर पर फॉलो किया। जिनमें कुछ गणमान्य व्यक्तियों, राजनेताओं, सेना के रिटायर्ड ऑफिसर्स के साथ-साथ खेल व अन्य विधाओं से जुड़ी हस्तियां शामिल थीं।
गत वर्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा बंधन के मौके पर खेल और मीडिया जगत की हस्तियों समेत करीब 55 महिलाओं को फॉलो किया। इन महिलाओं में बैडमिंटन युगल खिलाड़ी अश्विनी पोन्नप्पा, टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, कर्मन कौर थंडी, धावक पीटी उषा, पूर्व मिस इंडिया और बाल अधिकार कार्यकर्ता स्वरूप, पत्रकार रोमाना इसार खान, श्वेता सिंह, पद्मजा जोशी, शीला भट्ट और शालिनी सिंह शामिल हैं।
 
अभी हाल ही में मोदी जी ने एक बार फिर कुछ लोगों को ट्विटर पर फॉलो किया है जिनमें रेडियो जॉकी और चर्चित हस्ती आरजे रौनक, मेजर सुरेंद्र पूनिया आदि शामिल हैं। उत्तराखंड से स्वंत्रत पत्रकार व भाजपा नेता अजेंद्र अजय भी अब इस विशेष सूची में शामिल हो गए हैं। उत्तराखंड के प्रति मोदी जी का लगाव किसी से छुपा नहीं है और देवभूमि के लिए यह भी गौरव की बात ही है।
 
उत्तराखंड से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल "निशंक", पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री अजय टम्टा, राज्य सभा सांसद अनिल बलूनी आदि के बाद अब अजेंद्र अजय भी उस सूची में शामिल हो गए हैं जिनको मोदी ट्विटर पर फॉलो करते हैं। 
 
यहां गौर करने वाली बात यह है कि मोदी ट्विटर के माध्यम से भी प्रेम और सद्भाव को ही आगे बढ़ाने का संदेश देना चाहते हैं क्योंकि आज तक प्रधानमंत्री मोदी ने ट्विटर पर किसी को भी "अनफॉलो" या "ब्लॉक" नहीं किया है। देश में असहिष्णुता व अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का ढोल पीटने वाले तमाम तथाकथित बुद्धिजीवी, पत्रकार व राजनेताओं को इस मामले में प्रधानमंत्री मोदी से सीख लेनी चाहिए।
 
-पारितोष बंगवाल
(लेखक सामाजिक कार्यकर्ता हैं।)
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.