राष्ट्रीय

मल्लिकार्जुन खड़गे ने लोकपाल चयन समिति की बैठक का फिर बहिष्कार किया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Sep 4 2018 6:52PM

नयी दिल्ली। लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने लोकपाल चयन समिति की बैठक का एक बार फिर बहिष्कार किया है। उन्होंने कहा है कि वह 'विशेष आमंत्रित सदस्य' के तौर पर इसमें शामिल नहीं हो सकते। यह बैठक मंगलवार को प्रस्तावित थी।

खड़गे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में कहा, 'मैं इस साल 28 फरवरी, 10 अप्रैल, 18 जुलाई और 18 अगस्त को लिखे अपने पत्रों की ओर आपका ध्यान खींचना चाहता हूं। इन पत्रों में मैंने लोकपाल चयन समिति की बैठकों में विशेष आमंत्रित सदस्य के तौर पर शामिल होने के लिए भेजे गए निमंत्रण को लेकर अपनी आपत्तियों से अवगत कराया था।'।

उन्होंने कहा, 'मेरे पहले के पत्रों के बावजूद सरकार मुझे विशेष आमंत्रित सदस्य के तौर पर बैठक में बुला रही है। ऐसा लगता है कि सरकार यह दिखाने के लिए ऐसा कर रही है कि विपक्ष लोकपाल अधिनियम के क्रियान्वयन में सहयोग नहीं कर रहा है।'

खड़गे ने कहा कि जब तक सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के नेता को पूर्ण सदस्य के तौर पर समिति की बैठक में नहीं बुलाया जाता तब तक वह शामिल नहीं होंगे। लोकपाल अधिनियम 2013 के तहत लोकसभा में विपक्ष का नेता ही चयन प्रक्रिया का सदस्य हो सकता है और चूंकि खड़गे को यह दर्जा हासिल नहीं है इसलिए वह इस समिति में शामिल नहीं हैं। विपक्ष के नेता का दर्जा हासिल करने के लिए कम से कम 55 सीट अथवा लोकसभा की कुल सदस्य संख्या का दस फीसदी सीट होना अनिवार्य है।

शेयर करें:

लोकप्रिय खबरें

ओवैसी ने अमित शाह से पूछा तीखा सवाल- क्या भाजपा मुझे भी गाय देगीबात से पलटी कांग्रेस, कहा- आरएसएस पर प्रतिबंध लगाने की बात नहीं कहीशशि थरूर से हुई बड़ी गलती, अब पार्टी से निलंबित करेगी कांग्रेस!ममता को बड़ा झटका, पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी कांग्रेस