राष्ट्रीय

राहुल ने जर्मनी में किया भारत का अपमान, अदालत में परिवाद पत्र दायर

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Aug 25 2018 4:42PM

मुजफ्फरपुर। बिहार के मुजफ्फरपुर की एक अदालत में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ देश का अपमान करने के आरोप में आज एक परिवाद पत्र दायर किया गया। यह परिवाद उनके हाल में जर्मनी में दिए गए बयान को लेकर दायर किया गया है जिसमें गांधी ने कहा था कि भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या करने की घटनाओं की वजह बेरोजगारी और हताशा है जो नोटबंदी और गलत तरीके से लागू किए गए जीएसटी के कारण पैदा हुई है।

अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा ने कांग्रेस अध्यक्ष के इस बयान को देश का अपमान करने वाला बताते हुए उनके खिलाफ एक परिवाद पत्र दायर किया है। ओझा ने परिवाद पत्र मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी हरि प्रसाद की अदालत में भादवि की धारा 153 बी, 500 और 504 के तहत दायर किया है। अदालत ने इस मामले की सुनवाई की तारीख आगामी चार सितंबर को निर्धारित की है।

वकील ने आरोप लगाया है कि गांधी का उद्देश्य ऐसा बयान देकर देश का अपमान करना था और इससे यहां की जनता अपमानित हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि गांधी ने ऐसा बयान जानबूझकर देश में उन्माद फैलाने के उद्देश्य दिया था।

शेयर करें:

लोकप्रिय खबरें

शशि थरूर से हुई बड़ी गलती, अब पार्टी से निलंबित करेगी कांग्रेस!राफेल की खरीद में फ्रांस की तरफ से कोई ‘सरकारी गारंटी’ नहींतमिलनाडु पर बड़ा खतरा, समुद्र से उठा गज तूफान आधी रात में मचाएगा तबाही!सपना चौधरी के शो में पुलिस ने फैंस पर बरसाई लाठियां, एक की मौत 12 घायल