दुर्घटना से बचना चाहते हैं तो इस यंत्र को करें वाहन में स्थापित

दुर्घटना से बचना चाहते हैं तो इस यंत्र को करें वाहन में स्थापित

कमल सिंघी | Jul 25 2019 11:58AM
हम प्रतिदिन अपने वाहन से दफ्तर, मार्केट या अन्य जगह आवाजाही करते हैं। वर्तमान में कई सड़क हादसे भी हो रहें हैं। वाहन दुर्घटना से बचाव हेतु ज्योतिषशास्त्र में विशेष उपाय भी मौजूद हैं। अगर आप चाहते है कि आपके दोपहिया या चार पहिया वाहन से दुर्घटना ना हो तो दुर्घटना को रोकने के लिए ज्योतिषशास्त्र वाहन दुर्घटना नाशक मारुती यंत्र वाहन में स्थापित करने की सलाह देते हैं। यह काफी सफल भी रहता हैं।  वाहन दुर्घटना नाशक यंत्र का रहस्य महाभारत काल से जुड़ा हुआ हैं। हम आपको इस यंत्र को स्थापित करने की विधि भी बताएंगे। 
वाहन दुर्घटना नाशक यंत्र का महत्व-
हम हमारे आसपास के वातावरण में यह हमेशा देखते हैं कि वाहन दुर्घटना होना आम बात हो गई हैं। जब भी आप वाहन से सफर करते हैं तो मन में कहीं ना कहीं यह भय जरूर बना रहता है कि आपके साथ भी कोई छोटी-बड़ी वाहन दुर्घटना ना हो जाए। अपने वाहन में दुर्घटना नाशक मारुती यंत्र स्थापित करें जिससे आपके मन की आशंका भी दूर हो जाएगी साथ ही मारुती यानी की भगवान हनुमान की कृपा आप पर बनी रहेगी। जिससे आप या आपका ड्राइवर या चाहे कोई रिश्तेदार वाहन चलाकर कहीं जाता है तो उसके साथ वाहन संबंधीत दुर्घटना कोसों दूर रहेगी। 
 
महाभारत काल से जुड़ा हैं यंत्र का रहस्य-
वाहन दुर्घटना नाशक यंत्र का रहस्य महाभारत काल से जुड़ा हैं। यह यंत्र कोई आम यंत्र नही हैं। बल्कि यह बहुत ही खास हैं। ज्योतिषशात्र कि माने तो महाभारत में युद्ध के समय अर्जुन के रथ की रक्षा महावीर हनुमान द्वारा की गई थी। अर्जुन द्वारा हनुमान जी का आह्वान कर उन्हें रथ में आगे स्थापित किया था। जिससे अर्जुन के रथ को महाभारत में खरोच तक नहीं आई थी। जब से यह मान्यता हैं कि अगर दुर्घटना नाशक मारुती यंत्र को वाहन में स्थापित किया जाए तो कभी भी दुर्घटना नहीं होगी और वाहन की दुर्घटना को टाला जा सकता हैं। मान्यता यह भी है कि इस यंत्र के प्रभाव से बजरंगबली हनुमान वाहन को दुर्घटना से बचाते हैं।
 
ऐसे करें वाहन दुर्घटना नाशक यंत्र को स्थापित-
हनुमानजी की कृपा से वाहन दुर्घटना नाशक मारुती यंत्र वाहन के लिए रक्षा कवच का कार्य करता हैं। इस यंत्र को स्थापित करने की विधि कुछ इस प्रकार हैं कि मंगलवार, शनिवार, हनुमान जयंती या रामनवमी के दिन इस यंत्र को स्थापित करें। सबसे पहले स्वयं स्नान करें और अपने वाहन को भी स्नान करवाए। जिसके बाद वाहन दुर्घटना नाशक मारुती यंत्र वाहन में जहाँ स्थापित करना हैं उस जगह को गंगाजल से पवित्र कर लेवे। इससे पहले हनुमानजी के मंदिर में धूप, दीप और चोला चढ़ा दें। वाहन में जहां यंत्र स्थापित करना हैं उस स्थान पर सिंदूर चढ़ा दें। जिसके बाद शुभ चौघड़िया में इसे स्थापित कर दें और नारियल चढ़ा दें। इस तरह से स्थापित करने के बाद आपका वाहन दुर्घटना का शिकार नहीं होगा। हनुमानजी स्वयं आपके वाहन की रक्षा करेंगे।
इस मंत्र का करें उच्चारण-
वाहन में दुर्घटना नाशक मारुती यंत्र स्थापित करने के बाद कहीं भी आप वाहन ले जाए तो हनुमानजी को याद जरूर करें। वाहन में बैठते ही थोड़ी देर के लिए "ॐ नमो भगवते अंजनाए महाबलाय स्वाहा" मंत्र का जाप करें। अब आप कही भी बिना संकोच के वाहन से यात्रा कर सकते हैं। क्योंकि अब महाबली हनुमान स्वयं आपके वाहन की रक्षा करेंगे।
 
- कमल सिंघी
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.