उइगर मुस्लिम समूह को वापस नहीं भेजने पर अमेरिका ने की कजाखस्तान की प्रशंसा

उइगर मुस्लिम समूह को वापस नहीं भेजने पर अमेरिका ने की कजाखस्तान की प्रशंसा

प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Jun 7 2019 10:33AM

वॉशिंगटन। अमेरिका ने चीन से भागकर आए उइगर मुस्लिम समूह के लोगों को वापस नहीं भेजने पर कजाखस्तान की प्रशंसा की है। मध्य एशिया के प्रभारी अमेरिकी दूत डेविड रैन्ज ने चीन के शिंजियांग में बढ़ती मानवाधिकार चिंताओं पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि अमेरिका कजाखस्तान का ‘‘आभारी’’ है कि वह ‘‘उइगर और अन्य मुस्लिम अल्पसंख्यक समूहों के सदस्यों को जबरन वापस चीन भेजने के चीन के दबाव’’ के आगे झुका नहीं।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका में रह रहे शरणार्थी बच्चे अब नहीं कर पाएंगे अंग्रेजी भाषा का कोर्स

उन्होंने उइगर अधिकार समूहों और ‘जॉर्ज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी’ द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहा कि हम सभी देशों से अपील करते हैं कि वे सुरक्षा मुहैया कराएं, उन्हें शरण पाने की अनुमति दें और उन लोगों को उनके पसंद के अन्य देशों में जाने की अनुमति दें, जैसा कि कजाखस्तान ने किया है। कजाखस्तान के चीन और अमेरिका के साथ अच्छे संबंध हैं। वह शिंजियांग में बढ़ती मानवाधिकार चिंताओं के कारण मुश्किल हालात में फंस गया है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप

भाजपा को जिताए
भाजपा को जिताए