फिटनेस मंत्रा

गुड़ से सिर्फ मिठास ही नहीं, सेहत को कई गुणकारी लाभ भी मिलते हैं

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Sep 10 2018 5:19PM

अक्सर लोग घरों में किसी भी चीज में मीठे का प्रयोग करने के लिए चीनी को ही प्राथमिकता देते हैं। पर वास्तव में चीनी स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी हितकर नहीं मानी जाती। यहां तक कि चीनी की तुलना जहर से की जाती है। ऐसे में अगर आप अपनी किसी भी चीज का जायका बढ़ाने के लिए एक हेल्दी ऑप्शन ढूंढ रहे हैं तो गुड़ का सेवन किया जा सकता है। यह एक ओर हेल्दी होता है तो वहीं दूसरी ओर, कई तरह के स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करता है। इतना ही नहीं, जब इसका प्रयोग भोजन में किया जाता है तो व्यजंन का स्वाद ही पूरी तरह बदल जाता है। तो चलिए जानते हैं गुड़ के कुछ बेहतरीन लाभों के बारे में−

पाचन तंत्र बनाए बेहतर

बहुत से लोग भोजन के बाद गुड़ खाना पसंद करते हैं। अगर आप भी ऐसा ही करते हैं तो समझ लीजिए कि आपको पाचन संबंधी किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। दरअसल, गुड़ में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो पेट की सभी समस्याओं को दूर करता है। जिसके कारण व्यक्ति को पेट में गैस, पेट में दर्द, अपच या कब्ज आदि तकलीफें नहीं होतीं। वहीं अगर आपको भोजन के बाद खट्टी डकारें आ रही हैं तो गुड़ का सेवन, सेंधा नमक और काला नमक डालकर करें।

नियंत्रित ब्लड प्रेशर

जिन लोगों को हमेशा ही उच्च रक्तचाप की समस्या रहती है, उन्हें विशेष रूप से गुड़ को भोजन में शामिल करना चाहिए। ऐसा करने से आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहेगा और आप कई तरह की समस्याओं से आसानी से बचे रहेंगे।

हडि्डयों के लिए लाभदायी

हडि्डयों को लम्बे समय तक फिट बनाए रखने के लिए शरीर में पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम होना आवश्यक है। गुड़ में भी कैल्शियम व फास्फोरस प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए अगर इसका सेवन किया जाए तो हडि्डयों में कमजोरी व दर्द की समस्या उत्पन्न नहीं होती। वहीं जिन लोगों को पहले से ही ज्वाइंट पेन है, वह भी गुड़ को अदरक के साथ खाएं। नियमित रूप से गुड़ व अदरक के सेवन से आपको कुछ ही दिनों में फर्क नजर आएगा।

मानसिक स्वास्थ्य का रखें ख्याल

एक ओर जहां गुड़ हडि्डयों को मजबूती प्रदान करके आपको फिट व एक्टिव बनाता है, वहीं दूसरी ओर यह दिमाग के लिए भी उतना असरकारक होता है। जब आप रोजाना इसका सेवन करते हैं तो इससे माइंड ज्यादा एक्टिव होता है और याददाश्त भी बेहतर बनती है। साथ ही जिन लोगों को सिर में दर्द व माइग्रेन की समस्या है, उनकी परेशानी भी धीरे−धीरे काफी हद तक कम हो जाती है।

-मिताली जैन

शेयर करें:

लोकप्रिय खबरें

घोटालों में फंसने के बाद पाकिस्तान का राग अलापती है BJP: सुरजेवालाचुनावी मोड पर अमित शाहबिशप मुलक्कल को 12 दिन के लिये न्यायिक हिरासत में भेजा गयाअपनाएं वास्तु शास्त्र के सरल एवं प्रभावी उपाय, मिलेगी सकारात्मक ऊर्जा