मुंह से आने वाली बदबू देती है कई गंभीर बीमारियों के संकेत

मुंह से आने वाली बदबू देती है कई गंभीर बीमारियों के संकेत

मिताली जैन | May 14 2019 2:54PM
कुछ लोगों के मुंह से हमेशा ही बदबू आती रहती है और जिसके कारण अक्सर लोग माउथ फ्रेशनर या अन्य चीजों का प्रयोग करते हैं। अमूमन माना जाता है कि सांसों से आने वाली बदबू का मुख्य कारण ओरल हेल्थ का सही तरह से ख्याल न रखना होता है। लेकिन वास्तव में मुंह से आने वाली बदबू कई गंभीर बीमारियों के संकेत देती है। तो चलिए जानते हैं कि किन बीमारियों के चलते मुंह से बदबू आने लगती है−
मसूड़ों की बीमारी
अगर किसी व्यक्ति को मसूड़ों की समस्या है तो इससे सांसों से बदबू आने लगती है। इसलिए अगर किसी व्यक्ति को मसूड़ों में परेशानी होती है तो उसके मुंह से बदबू आना स्वाभाविक है।

कैंसर
आपको शायद जानकर हैरानी हो लेकिन कैंसर भी मुंह से बदबू आने का एक कारण है। मुंह का कैंसर होने पर व्यक्ति की सांस की गुणवत्ता पर भी असर पड़ता है। इसके अतिरिक्त, सांसों से आने वाली बदबू कैंसर से कैंसर को पहली स्टेज में ही पहचाना जा सकता है। वैसे फेफड़ों का कैंसर होने पर भी व्यक्ति की सांसों से बदबू आने लगती है। वहीं कैंसर होने पर कीमोथेरेपी और विकिरण चिकित्सा के कारण मुंह में लार का उत्पादन प्रभावित होता है और जिससे मुंह में सूखापन आता है। पर्याप्त लार प्रवाह के बिना मुंह से बदबू आनी शुरू हो जाती है।
 
पाचन में परेशानी
जब व्यक्ति का पाचन तंत्र सही तरह से काम नहीं करता तो उसके मुंह से बदबू आने लगती है। दरअसल, पेट में गड़बड़ी होने पर उसमें गैस बनने लगती है और वह गैस मुंह से बाहर आती है। जिससे व्यक्ति की सांसों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है।
मधुमेह की समस्या
अगर आप मधुमेह से पीडि़त हैं तो आपके मुंह से बदबू आने लगती है। मधुमेह रक्त−शर्करा के स्तर में उतार−चढ़ाव का कारण बनता है, जिससे सांस से खराब होने वाली बीमारी पीरियडोंटल भी हो सकती है। दांत व मसूड़ों में अतिरिक्त ग्लूकोज बैक्टीरिया को बढ़ाता है, जिससे मसूड़ों की बीमारी, मसूड़े की सूजन और संक्रमण हो सकता है।

साइनस
जब कभी व्यक्ति की नाक बहने लगती है तो उसका असर व्यक्ति की सांसों पर भी पड़ता है। क्योंकि बलगम अक्सर गले की तरफ आने लगता है। जिससे गले में बैक्टीरिया जमा होने लगते हैं। जिससे व्यक्ति के मुंह से बदबू आनी शुरू हो जाती है। इसलिए अगर सांसों से आने वाली बदबू का कारण साइनस है तो आप तुरंत डॉक्टर से मिलकर इसका जल्द से जल्द उपचार करवा सकते हैं।
 
मिताली जैन

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.