किस तरह की खास चीजों से वर्ल्ड कप के लिए बनेगी भारत की सर्वश्रेष्ठ टीम!

किस तरह की खास चीजों से वर्ल्ड कप के लिए बनेगी भारत की सर्वश्रेष्ठ टीम!

दीपक कुमार मिश्रा | Apr 12 2019 11:41AM
इंग्लैंड में आयोजित होने वाले वर्ल्ड कप के लिए दिन काफी नजदीक आते जा रहे है। विश्व भर की तमाम टीमें क्रिकेट के महाकुंभ के लिए अपनी तैयारियों को पुख्ता करने में लगी हुई है। भारत भी तीसरी बार वर्ल्ड कप के खिताब पर कब्जा जमाने के लिए अपनी कमर कस चुका है। 15 अप्रैल को वर्ल्ड कप के लिए टीम का ऐलान किया जाएगा। वैसे तो वर्ल्ड कप के लिए भारत पिछले 2 सालों से जमकर तैयारी कर रहा था। लेकिन अभी भी टीम में कुछ ऐसी जगह है, जिनका विकल्प भारत नहीं ढूंढ पाया है। विश्व कप के लिए भारत के टीम में कई खिलाड़ियों की जगह तकरीबन तय है। लेकिन अभी भी कुछ जगह ऐसी है। जिसके लिए दावेदारों की लिस्ट काफी लंबी है। अब सवाल यह है कि जब वर्ल्ड कप के लिए टीम का चयन होगा तो चयनकर्ता किन चीजों को ध्यान में रखकर टीम चुनेंगे जो भारत की विश्व कप के लिए सर्वश्रेष्ठ टीम साबित हो पाएगी।
कौन होगा टीम में नंबर 4 का बल्लेबाज?
इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप में अगर टीम इंडिया को जीत हासिल करनी है तो टीम में नंबर 4 की गुत्थी को जल्द ही सुलझाना होगा। पिछले काफी समय से भारतीय टीम में नंबर 4 पर कई बल्लेबाजों को मौका दिया गया। लेकिन किसी भी खिलाड़ी ने निरंतर प्रदर्शन नहीं किया। आलम यह है कि वर्ल्ड कप के लिए टीम के चयन की तारीख घोषित हो चुकी है और टीम मैनेजमेंट के साथ चयनकर्ता भी इस मुश्किल में है कि आखिर नंबर 4 पर किस बल्लेबाज को मौका दिया जाए। भारतीय टीम के लिए पिछले कुछ समय में नंबर 4 पर अंबाति रायडू, दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत, केएल राहुल और विजय शंकर जैसे बल्लेबाजों को आजमाया जा चुका है। लेकिन अभी तक किसी भी खिलाड़ी ने अपने प्रदर्शन से इस पद के लिए कप्तान और कोच का विश्वास नहीं जीता है। अब सवाल यह है कि आखिर चयनकर्ता इस स्थान के लिए किस खिलाड़ी को मौका देंगे। क्योंकि नंबर 4 का बल्लेबाजी क्रम वनडे क्रिकेट में सबसे महत्तवपूर्ण स्थान माना जाता है। अगर भारत इस स्थान पर एक ऐसा बल्लेबाज ढूंढने में कामयाब रहा जो हालात के अनुसार बल्लेबाजी कर सकें तो टीम इंडिया को वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन करने से कोई नहीं रोक सकता है।
 
टीम इंडिया में दूसरे विकेटकीपर के लिए जंग
इस समय में भारतीय टीम में दुनिया का सबसे विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के रूप में मौजूद है। लेकिन सवाल यह है कि भारत को वर्ल्ड कप के लिए दूसरे विकेटकीपर के रूप में किसका चयन करना है। वर्ल्ड कप एक लंबा टूर्नामेंट है जहां भारतीय टीम को दूसरे विकेटकीपर की जरूरत पड़ेगी। जिसके लिए चयनकर्ताओं को एक ऐसे खिलाड़ी का चयन करना होगा जो विकेट के पीछें दस्तानों में टीम की जिम्मेदारी तो संभाले ही साथ ही बल्ले से भी तहलका मचाने में सक्षम हो। इस स्थान के लिए अगर दावेदारों पर नजर डाली जाएं तो दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत का नाम सबसे उपर आता है। हालांकि दोनों ही खिलाड़ियों ने नीली जर्सी में अपने प्रदर्शन से कुछ खास ऐसा नहीं किया जिसकी वजह से चयनकर्ता इनके नाम पर आंख मूंद कर मुहर लगा दें। वैसे भी भारतीय टीम के पास दूसरे विकेटकीपर के लिए ज्यादा विकल्प नहीं है। जिसकी वजह से चनयकर्ताओं को इन खिलाड़ियों में से ही टीम का चयन करना होगा। 
बैकअप ओपनर के लिए भी जारी है रेस 
भारत के लिए शिखर धवन और रोहित शर्मा की जोड़ी पिछले 6 साल से लगातार ओपनिंग की जिम्मेदारी संभालते आ रही है। इस स्थान पर दोनों ही खिलाड़ियों ने ना जाने कितने ही मैच अपने प्रदर्शन से भारत की झोली में डाले है। लेकिन सवाल यह है कि आखिर वर्ल्ड कप के लिए इन दोनों के अलावा तीसरा ओपनर कौन होगा। इंग्लैंड में आयोजित होने वाला वर्ल्ड कप लगभग डेढ़ महीने तक चलेगा। इस दौरान भारतीय टीम कुछ खिलाड़ियों को आराम देकर बेंच स्ट्रैंथ को भी मौका देना चाहेगा। वहीं अगर कही इंजरी की वजह से कभी किसी ओपनर को बाहर बैठना पड़ता है तो उसकी जगह पर किसे मौका दिया जाएगा। चनयकर्ताओं के लिए अगर तीसरे नंबर पर किसी बल्लेबाज को मौका दिया जाता है तो वह केएल राहुल हो सकत हैं। राहुल पिछले काफी समय से टीम इंडिया के साथ है। इस दौरान उनका प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा है। हालांकि कुछ समय के लिए राहुल को कॉफी विद करण में विवादित बयानबाजी की वजह से टीम से बाहर होना पड़ा था। लेकिन आईपीएल में राहुल ने अपने बल्ले से अच्छा प्रदर्शन कर दिखा दिया कि वो वर्ल्ड कप के लिए टीम का हिस्सा हो सकते है। राहुल आईपीएल में अच्छी फार्म में है और मुंबई इंडियंस के खिलाफ शतक भी जड़ चुके है। विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के लगातार सहयोग से ये भी पता चलता है कि टीम मैनेजमेंट उनके अंदर काफी विश्वास करता है। अब यह चयनकर्ताओं के उपर निर्भर है कि वो राहुल को तीसरे ओपनर के रूप में देखते है या फिर कुछ अलग तरह का निर्णय लेते है।
 
- दीपक कुमार मिश्रा

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.